अगर पसंद आए तो कृपया इस ब्लॉग का लोगो अपने ब्लॉग पे लगाएं

बुधवार, 9 अक्तूबर 2013

शक्तिस्वरूपा करुणामयी " माँ " ( माँ स्तुति )

==============================================================================



=======================================================================================

शक्तिस्वरूपा करुणामयी " माँ  " हे जगतधारिणी हमें प्यार दे , हम दीन दुखी हम अन्जाने हे कल्याणमयी " माँ " हमें तार दे !!

रूठ न जाना तुम हमसे , नित स्तुति तुम्हारी करता हूँ , सेवक जान के रख़ लेना , ये विनय " माँ " आपसे करता हूँ !

कुटुम्ब प्रेम तो दिया ही दिया , " माँ " और तुमसे क्या मांगू , विश्वास की ज्योति जलाए रखना , नित मांग सकूं तो ये मांगू !




निर्बल को बल , धनी को धन ये औषधियाँ तो तुम्हारी है , मान बढ़े , अभिमान न बढ़े क्योंकि ये सम्पत्ति सिर्फ तुम्हारी है !
हे मात्स्वरूपिणी जगदम्बा " माँ " मुझ दीन की सुन पुकार ले !

शक्तिस्वरूपा करुणामयी " माँ  " हे जगतधारिणी हमें प्यार दे , हम दीन दुखी हम अन्जाने हे कल्याणमयी " माँ " हमें तार दे !!


==============================================================================



( इन्फॉरमेशन एन्ड सोल्यूशन्स की तरफ से नवरात्र की हार्दिक शुभकामनाएं )



=========================================================================================



13 टिप्‍पणियां:

  1. उत्तर
    1. जय माता की , दिगम्बर भाई जी स्वागत है

      हटाएं
  2. बहुत सुंदर,आशीष भाई .जय माता दी .

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. राजीव भाई जी , धन्यवाद
      जय माता दी

      हटाएं
  3. इस पोस्ट की चर्चा, बृहस्पतिवार, दिनांक :-10/10/2013 को "हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच}" चर्चा अंक -21 पर.
    आप भी पधारें, सादर ....
    नवरात्रि की शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  4. उत्तर
    1. सर , ये हमारा भाग्य है जो आप पधारे , धन्यवाद व स्वागत है

      हटाएं
  5. उत्तर
    1. सुशील सर धन्यवाद व सदः स्वागत है !
      || जय माता दी ||

      हटाएं
  6. जय माता दी
    आशीष पर आशीष बनी रहे

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आदरणीय , धन्यवाद व स्वागत हैं , आशीर्वाद मिला और चाहिए ही क्या !
      ॥ जय माता दी ॥

      हटाएं
  7. पवित्र ह्रदय से निकले प्रार्थना के निर्मल वचन ! 'माँ' सबका कल्याण करें !
    नव रात्रि की हार्दिक शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आदरणीय धन्यवाद व सद: स्वागत हैं ! नवरात्रि की शुभकामनाओं सहित !
      ॥ जय माता दी ॥

      हटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...