अगर पसंद आए तो कृपया इस ब्लॉग का लोगो अपने ब्लॉग पे लगाएं

गुरुवार, 27 फ़रवरी 2014

इन्टरनेट क्या है ? { What is Internet ? }

==============================================================================




इन्टरनेट क्या है ? [ What is Internet ? ] 



***** आज के इस व्यस्त दौर में इन्टरनेट को भला कौन नहीं जानता , लेकिन ये सवाल है बहुत काम का , सही से बताऊँ तो इन्टरनेट के बारे में मै भी नहीं जानता था , और इसकी न जानकारी होना हि मेरी इस पोस्ट का कारण बन गया , तो आइये जान भी लेते है की इन्टरनेट है क्या  ? *****

------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
( अंतरजाल ), इन्टरनेट पूरे विश्व भर में विस्त्रित कंप्यूटर नेटवर्कों का एक नेटवर्क है , जिससे दुनिया भर में अनेक नेटवर्क जुड़े हुए है , अतः इसे नेटवर्कों का नेटवर्क भी कहा जाता है , जिसमें प्रत्येक नेटवर्क के प्रत्येक कंप्यूटर किसी भी नेटवर्क के किसी भी कंप्यूटर से कॉम्यूनिकेट कर सकते है।
इन्टरनेट पर किसी भी दो समान या भिन्न नेटवर्क के कंप्यूटर एक - दूसरे से  कॉम्यूनिकेट करने के लिये कुछ निश्चित नियमों का पालन करते है , तथा इन नियमों के सेट ( set ) को प्रोटोकॉल ( protocol ) कहा जाता है। इन्टरनेट पर दो कंप्यूटर आपस में कॉम्यूनिकेट करने के लिये जिस प्रोटोकॉल का प्रयोग करते है , उसे TCP/IP के नाम से जाना जाता है
------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
एक हाई - स्पीड नेटवर्क ( High - Speed network ) विभिन्न लोकल एरिया नेटवर्कों ( LANs ) को इन्टरनेट से जोड़ता है , जिसे इन्टरनेट का बैकबोन ( Backbone ) कहा जाता है। इन्टरनेट का बैकबोन ( Backbone ) हाई - स्पीड कॉम्यूनिकेशन लिंक्स ( High - Speed communication links ) का निर्मित होता है , जो किसी निजी कम्पनी के अधिकार क्षेत्र में होता है।
भारत के इन्टरनेट का बैकबोन ( Backbone ) , VSNL ( Videsh Sanchaar Nigam Limited ) नामक कम्पनी के अधिकार क्षेत्र में है। इन्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स ( Internet Service Providers ) यानी की { ISPs }ही बैकबोन से कनेक्शन ( connections ) स्थापित कर सकते है तथा फिर इन्टरनेट को एक्सेस ( Access ) करने का अधिकार किसी वाणिज्यिक संस्था या व्यक्ति विशेष को बेंच सकते है।
------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
१९९० तक इन्टरनेट से ३००० नेटवर्क और २००,००० कंप्यूटर जुड़े हुए थे। १९९५ तक सैकड़ों रीजनल नेटवर्क ( Regional Networks ) , हजारों लोकल एरिया नेटवर्क्स { LANs } और लाखों प्रयोक्ता ( users ) इन्टरनेट से जुड़ चुके थे। और आज के इस दौर में इन्टरनेट से १०० देशों में १०० लाख से अधिक यूज़र जुड़े हुए है।
------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------





पाठन के लिये ⓘ.ⓐ.ⓢ.ⓘ.ⓗ की तरफ से आशीष भाई का आप सभी पाठकों को धन्यवाद 

--------------------------------------------------------------------------------------------------------

मित्रों ये जानकारी आपको हिन्दी में कैसी लगी , अपनी टिप्पणी जरूर दें !


==============================================================================     

21 टिप्‍पणियां:

  1. उत्तर
    1. सुशील सर धन्यवाद व स्वागत है
      || जय श्री हरिः ||

      हटाएं

  2. आपकी यह उत्कृष्ट प्रस्तुति कल शुक्रवार (28.02.2014) को " शिवरात्रि दोहावली ( चर्चा -1537 )" पर लिंक की गयी है, कृपया पधारें, वहाँ आपका स्वागत है। महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आ० राजेंद्र सर , धन्यवाद व सद: स्वागत हैं ।

      हटाएं
  3. उत्तर
    1. राजीव भाई जी धन्यवाद व सदः स्वागत है
      || ॐ नमः शिवाय ||
      || जय श्री हरिः ||

      हटाएं
  4. उत्तर
    1. तो मेहनत सफल हो गयी , आ० प्रतिभा जी आगमन हेतु धन्यवाद व स्वागत हैं

      हटाएं
    2. अपने उत्तर दर्ज करें...internet ke baade me jankar bahut accha lga thanks

      हटाएं
  5. उत्तर
    1. संजय भाई धन्यवाद व सद: स्वागत हैं

      हटाएं
  6. सुन्दर सटीक रहा नेटवर्कों का नेटवर्क बोले तो इंटरनेट

    उत्तर देंहटाएं
  7. प्रिय आशीष जी आपकी ये पोस्ट बहुत ज्ञानवर्धक है. आपके ब्लॉग की अन्य रचनाएं भी उपयोगी हैं.

    क्या हिंदी ब्लॉगिंग के अच्छे दिन आने वाले हैं?

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. अनिल सर धन्यवाद व सदा हि स्वागत है !

      हटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...